देहरादून-हरिद्वार मार्ग वन्यजीवों के लिए होगा सुरक्षित,कम होगी हरिद्वार-देहरादून की दूरी

0
944

देहरादून-हरिद्वार के बीच सड़क मार्ग पर अब वन्यजीवों के लिए रास्ता सुरक्षित हो जाएगा। इसी के साथ इस मार्ग पर आने-जाने वाले वाहनों के लिए यह मार्ग सुरक्षित होगा और हरिद्वार-देहरादून की दूरी भी कम हो जाएगी। जिसके लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने लाल तप्पङ फ्लाईओवर देहरादून-हरिद्वार के हाईवे का निरीक्षण किया।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने लाल तप्पङ फ्लाईओवर का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने वहां अधिकारियों और कर्मचारियों से जानकारी ली कि कब तक फ्लाई ओवर का काम पूरा हो जाएगा। वहीं मुख्यमंत्री को बताया गया कि इस साल 31 जनवरी तक फ्लाई ओवर का कार्य पूर्ण हो जाएगा। दरअसल लाल तप्पङ फ्लाईओवर देहरादून हरिद्वार के हाईवे पर स्थित है और इस फ्लाईओवर के बनने के बाद देहरादून हरिद्वार की दूरी और कम हो जाएगी।

दूसरी सबसे महत्वपूर्ण बात लाल तप्पड़ इलाका एक तरह का एलीफेंट कॉरिडोर भी है क्योंकि अक्सर जब फ्लाईओवर नहीं था तो इस रास्ते सुबह और शाम एलीफेंट का मूवमेंट रहा करता है जिससे न सिर्फ वन्यजीवों बल्कि इंसानों की भी जान को खतरा रहा करता था। अब ऐसे में लाल तप्पङ फ्लाईओवर बनने से वन्यजीवों के लिए रास्ता भी सुरक्षित हो जाएगा और आने जाने वाले वाहनों के लिए भी सुरक्षित रहेगा।