उत्तराखंड में कोरोना काल में ब्लड बैंकों में ब्लड की कमी को देखते हुए पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत के आह्वान पर ‘रक्तदान शिविरों’ का किया जा रहा आयोजन

0
878

 आज कोरोना महामारी के समय में सारा समाज मिलकर एक दूसरे की मदद कर रहा है। कोरोना संक्रमण के चलते लंबे समय से रक्तदान शिविरों का आयोजन नहीं हो पा रहा है, जिससे ब्लड बैंक में भी रक्त की कमी साफ देखी जा रही है। इसके चलते पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के आह्वान पर ‘रक्तदान शिविरों’ का आयोजन किया जा रहा है जिसकी शुरुआत शुक्रवार 14 मई, 2021, प्रातः 10 बजे से डोईवाला रक्तदान शिविर शहीद दुर्गामल्ल महाविद्यालय से की जाएगी। जिसमें कई नागरिकों ने ऑनलाइन पंजीकरण किया है।

पूर्व मुख्यमंत्री श्री रावत ने जनता से अपील की है कि जो भी नागरिक रक्तदान करना चाहता है वो रक्तदान के लिए अवश्य आगे आएं इसके अलावा जो रक्तदाता समय-समय पर रक्तदान करते हैं और इस संकटकाल में किसी कारणवश नहीं करवा पा रहे हैं वो भी अवश्य आगे आएं , रक्तदान केंद्रों पर कोरोना से बचाव के सभी मानकों को लागू किया गया है। उन्होंने कहा कि रक्तदान शिविर में डॉक्टरों द्वारा शारीरिक जांच की पूरी व्यवस्था की गई है और जांच के बाद कि रक्तदान के लिए आगे किया जाएगा। उन्होंने कहा है कि आपका रक्तदान किसी को जीवनदान दे सकता है। आज के इस संकट काल में इसकी काफी जरूरत है क्योंकि कई ब्लड बैंकों में रक्त की क़मीज़ें गई है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोरोना महामारी ने जहां हर क्षेत्र पर असर डाला वहीं रक्तदान भी इससे अछूता नहीं रहा। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में स्वैच्छिक रक्तदान में काफी कमी आई है। जिससे कई ब्लड बैंकों में रक्त का स्टाक भी काफी घटा है। हालांकि इस दौरान जरूरतमंदों को समाज सेवियों व रक्तदाताओं की मदद से समय-समय पर रक्त उपलब्ध कराया जाता रहा है, लेकिन एक साथ रक्तदान के लिए लोग ब्लड बैंक नहीं पहुंच पा रहे हैं जिसको देखते हुए इस प्रकार के शिविरों का आयोजन किया जाना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि रक्तदान शिविरों में कोरोना से बचाव के सभी मानकों का अनुपालन करना सुनिश्चित किया गया है ताकि संक्रमण ना फैले और रक्तदान भी ठीक से हो पाए।

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि हमारा उद्देश्य कोरोना काल में ब्लड बैंक में ब्लड की कमी को दूर करना है। उन्होंने सभी से निवेदन किया है कि ‘रक्तदान शिविरों’ में बढ़- चढ़कर भाग लेने हेतु ऑनलाइन लिंक पर (http://indiamaximum.com/doonbloodline) अवश्य पंजीकरण करें। उन्होंने कहा है कि कोरोना को हमें मिलकर मात देना है।