उत्तराखंड के एक हजार गांवों को सोलर ऊर्जा से रोशन किए जाने के लक्ष्य पर काम शुरू,भाजपा ने कहा-सौर ऊर्जा पर धामी सरकार का निर्णय बनायेगा उतराखंड को आत्मनिर्भर

0
213

भाजपा ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा एक हज़ार गांवों को सोलर ऊर्जा से रोशन करने के निर्णय का स्वागत किया है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने कहा कि सरकार का यह कदम गांवों को विधुत सप्लाई में आत्मनिर्भर बनाने व स्थानीय रोजगार बढ़ाने वाला साबित होगा।

भाजपा अध्यक्ष श्री भट्ट ने कहा कि भाजपा सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशानुसार मुफ्त बिजली के बजाय बिजली उत्पादन और उसे बेचकर आत्मनिर्भर राज्य बनाने की दिशा में काम कर रही है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में सौर ऊर्जा उत्पादन के क्षेत्र में असीम संभावनाएं हैं और इसके दृष्टिगत एक हजार गांवों में बंजर भूमि को इस कार्य के लिए चिन्हित किया गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के सौर ऊर्जा पॉलिसी का ड्राफ्ट तैयार कर शीघ्र कैबिनेट में लाने के निर्देश इस विषय को लेकर उनकी गंभीरता को दर्शाता है।

श्री भट्ट ने कहा कि सोलर गांवों को विकसित करने की नीति कई मायनों में बेहद महत्वपूर्ण है। पहला,यह सभी 1000 गांव सौर ऊर्जा से ही विद्युत सप्लाई के बाद बिजली को लेकर आत्मनिर्भर हो जाएंगे, दूसरा सोलर प्लांट लगने से स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा। वहीं गाँवों की जरूरत से अधिक उत्पादन होने पर बाहर बिजली आपूर्ति कर गाँव की आय में भी बढ़ोतरी होगी। इससे इस प्रोजेक्ट से उन स्थानीय लोगों को निवेश करने का मौका मिलेगा जो गाँवों को छोड़कर अन्य स्थानों पर रह रहे हैं जो रिवर्स पलायन की दिशा में मददगार होगा।

उत्तराखंड के एक हजार गांवों को सोलर ऊर्जा से रोशन किए जाने के लक्ष्य पर काम शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस बारे में प्रस्ताव कैबिनेट में पास कराने के लिए विभाग को तुरंत ड्राफ्ट बना कर देने को कहा है।

उत्तराखंड में सौर ऊर्जा उत्पादन की असीम संभावनाएं हैं। सरकार ने एक हजार गांवों में बंजर पड़ी पूरब मुखी जमीनों को चिन्हित भी कर लिया है। सरकार चाहती है कि इन गांवों में सौर ऊर्जा से ही विद्युत सप्लाई की जाए। धामी सरकार का मानना है कि इससे स्थानीय रोजगार के साथ-साथ सस्ती बिजली भी लोगों को मिल सकेगी।

मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने ऊर्चा सचिव को ये निर्देशित किया है कि एक हजार गांवों में सोलर ऊर्जा के प्रोजेक्ट को कैबिनेट में लाने के लिए उसका फाइनल ड्रॉफ्ट तैयार करे,ताकि इस पर सरकार इसे पास करके योजना को निर्धारित समय के साथ पूरा कराया जा सके। सौर ऊर्जा पॉलिसी को ड्राफ्ट करने का काम चल रहा है। इस प्रोजेक्ट उन स्थानीय लोगों को निवेश करने का मौका मिलेगा जो गाँवों को छोड़कर अन्य स्थानों पर रह रहे हैं उनकी बंजर भूमि से आय भी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here