कोरोना का कहरः-उत्तराखंड में 28 अप्रैल तक सरकारी कामकाज बंद

0
945

उत्तराखंड में लगातर बढ़ते कोरोना के मामलों के मध्यनज़र सरकार ने सभी सरकारी कार्यालय सोमवार, मंगलवार और बुधवार को बंद करने का निर्णय लिया है। उत्तराखंड में शनिवार को 2757 लोग संक्रमित मिले हैं। जो एक दिन में आए अब तक की सर्वाधिक संख्या है। चिंता की बात तो यह हैं  कि अब धीरे-धीरे कोरोना मैदानों से पर्वतीय जनपदों में भी पैर पसारने लगा है।

उत्तराखंड में लगातार बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए। राज्य सरकार ने निर्णय लिया हैं कि अब राज्य में सभी सरकारी कार्यालय अब 28 अप्रैल तक बंद रहेंगे। सचिव सामान्य प्रशासन डॉ पंकज कुमार पांडेय की ओर से शनिवार को जारी आदेश में कहा गया है कि राज्य के इस दौरान सभी अधिकारी व कर्मचारी मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे और जरूरी होने पर उन्हें ऑफिस भी बुलाया जा सकता है। आपको बता दें कि सरकार ने राज्य में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए पूर्व में 23, 24 और 25 अप्रैल को तीन दिनों तक सरकारी कार्यालय बंद रखने का निर्णय लिया था। जिसे बढ़ा तक अब 28 अप्रैल तक कर दिया गया है।

उत्तराखंड सचिवालय सहित राज्य के कई सरकारी कार्यालयों में अधिकारी व कर्मचारी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। संक्रमण के मामले लगातार बढ़ने से अब सरकार ने सरकारी कार्यालयों को 26 से 28 अप्रैल तक बंद रखने के आदेश जारी कर दिए हैं। लेकिन विभागों के अधिकारी व कर्मचारी मुख्यालय में उपस्थित रहेंगे। इस दौरान मोबाइल फोन स्वीच ऑफ नहीं करेंगे। किसी भी समय जरूरत पड़ने पर अधिकारी व कर्मचारी को कार्यालय बुलाया जा सकता है। इसी साथ शासन और प्रशासन की ओर से सभी सार्वजनिक स्थलों और सरकारी कार्यालयों को सैनिटाइज किए जाने संबंधी आदेश के अनुपालन में अभियान चलाया गया। नगर निगम की टीम ने रविवार को इन सभी कार्यालय और सर्वजनिक स्थलों को सौनिटाइज किया।