पिथौरागढ़ के उच्च हिमालयी क्षेत्र में भारी बर्फबारी,ठंड से 400 भेड़ों की मौत

0
1251

उत्तराखंड तीन दिन से बारिश और बर्फबारी का सिलसिला जारी। अप्रैल महीने में उत्तराखंड में अचानक ठंड लौट आई है। जिससे यहां के ग्रामीणों,किसानों और भेड़पालकों को भारी नुकसान की खबरें आ रही है।

पिछले तीन दिनों से लगातार हो रही बर्फबारी से पिथौरागढ़ के उच्च हिमालयी क्षेत्रों से बहुत ही दुःखद खबर आ रही है। जहां पिछले दो दिनों से लगातार भारी बर्फबारी होने से भेड़ पालकों का भारी नुकसान हो गया है। बताया जा रहा हैं कि बर्फबारी और ठंड से इस क्षेत्र में भेड़ पालकों की 400 से ज्यादा भेड़ों की मौत हो गई है। पिथौरागढ़ के उच्च हिमालयी क्षेत्र में गर्ब्यांग और गुंजी में हो रही रही बर्फबारी से लोगों की जन-जीवन अस्तवयस्त हो गया है।

पिथौरागढ़ में भेड़ पालकों को हुए इस नुकसान को लेकर जिला प्रशासन जानकारी जुटने में लगा है। इसी के साथ प्रशासन द्वारा भेड़ पालकों उच्च हिमालयी क्षेत्रों से निचली क्षेत्रों में आने के लिए कहा गया है। बर्फ और ठंड से इतनी बड़ी संख्या में हुई भेड़ों की मौत को लेकर भेड़ पालक सद्मे में है। उनका कहना हैं कि कोरोना महामारी के बीच हमारा सब कुछ खत्म हो गया है। शासन-प्रशासन के हमारी परेशानी को समझते हुए। हमारे नुकसान की कुछ भरपाई करनी चाहिए।

इसी के साथ यमुनोत्री एवं गंगोत्री धाम भी बर्फ से लकदक हो गए है। केदारनाथ, मद्महेश्वर, तुंगनाथ, चंद्रशिला रूपकुंड, समेत ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जमकर बर्फबारी हुई है। जिसके बाद से निचले इलाकों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है।