देवभूमि की जवानी को कुचल रहा है नशे का दानव,सतपुली पुलिस ने चैकिंग के दौरान बरामद किया भारी में मात्रा में गांजा

0
1675

उत्तराखंड में नशे का कारोबार तेजी के साथ बढ़ता जा रहा है। पहाड़ की खुबसूरत वादियों को बाहर से आने वाले लोग निरंतर नशे की आगोश में धकेल रहे है। राज्य में साल दर साल ड्रग्स स्मगलिंग के मामलों में इज़ाफा हुआ है। देवभूमि की जवानी को नशे का दानव कुचल रहा है। चरस, अफीम, स्मैक के अलावा नशे की गोलियां और इंजेक्शन युवाओं का जीवन तबाह कर रहे हैं। तस्करों के गैंग नेटवर्क मजबूत करते चले जा रहे हैं। लेकिन उत्तराखंड पुलिस के तत्परता के चलते सोमवार को सतपुली में ऐसे की एक गैंग के तस्करों की धरपकड़ कर पुलिस ने भारी मात्रा में अवैध गांजा पकड़ा है।  

सोमवार को कुछ ऐसे ही नंशे के सौदारगरों को सतपुली पुलिस ने वाहन चैकिंग के दौरान गिरफ्तार किया है। जो अपनी वैगनआर कार में 42 किलो अवैध गांजा लेकर पहाड़ पर नंशे का करोबार करने जा रहे है। लेकिन सतपुली पुलिस ने चैकिंग के दौरान इनके मनशुबों पर पानी फेर दिया।

चौकी प्रभारी थानाध्यक्ष संतोष पेथवाल ने बताया कि सोमवार सुबह लगभग 6:30  बजे पौड़ी गढ़वाल के उफरेखाल थलीसैण से आ रही मारुति वेगन आर रोका गया। पूछताछ के दौरान इस कार में लोगों से संतोषजनक जवाब न मिलने पर कार की तलाशी ली गई। तलाशी के दौरान कार से लगभग 42 किलो गांजा भरा पाया गया। इन दोनों तस्करों की तलाशी में 1 लाख 70 हजार रूपये की धनराशि भी बरामद हुई।

चौकी प्रभारी ने बताया कि कार सवार गिरफ्तार दोनों तस्कर मुनेश कुमार पुत्र केवल सिंह निवासी,नसीरपुर वनवारी, थाना धामपुर, जिला,बिजनौर एवं देवराज पुत्र हरपाल सिंह निवासी,सड़गड़ा थाना धामपुर, जिला,बिजनौर उत्तर प्रदेशन के रहने वाले है। इनके खिलाफ थाना सतपुली में एनडीपीएस एक्ट 8/20/60(3) के तहत मामला दर्ज हुआ। इसी के साथ इन कार वैगनआर कार UP20/ AB- 5156 को किया सीज किया गया है।

बताया जा रहा हैं कि यह पकड़े गए तस्कर पहाड़ी इलाकों से गांजा खरीदकर जिला बिजनौर, उत्तर प्रदेश में ऊंचे दामों में बेचते थे। पुलिस अब उन लोगों की भी तलाश में जुटी हैं जिनसे यह तस्कर गांजा खरीदकर लाते थे। इस बड़ी कार्रवाई के लिए एसएसपी पौड़ी ने सतपुली टीम के उत्साहवर्धन के लिए पूरी टीम का सम्मान करने की घोषणा की है।