जिलाधिकारी डा.विजय जोगदण्डे के निर्देशन में हंस जरनल अस्पताल सतपुली की बड़ी पहल,सतपुली के दुर्गम क्षेत्र चौथान की गर्भवती महिलाओं के लिए लगाया अल्ट्रासाउंड जांच शिविर

0
1967

कोरोना संक्रमण के बीच पहाड़ के दुर्गम क्षेत्रों में स्वास्थ्य की सुविधओं को पहुंचाना किसी चुनौती से कम नहीं है। लेकिन आप में यदि जीजीविषा और दृढ़ इच्छाशक्ति हो तो हर चुनौती का सामना करते हुआ आगे बढ़ा जा सकता है। इसी जीजीविषा और दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ पहाड़ के लोगों के लिए जीवनदाता साबित हो रहा है हंस जरनल अस्पताल सतपुली,जिसने जिलाधिकारी डा.विजय जोगदण्डे के निर्देशन में सतपुली के दुर्गम क्षेत्रों में रह रही गर्भवती महिलाओं के लिए बड़ी पहल की है।

सतपुली के चौथान क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं के लिए हंस जरनल अस्पताल सतपुली में अल्ट्रासाउंड जांच शिविर लगया गया है। जिसका शुभारंभ जिलाधिकारी डा.विजय कुमार जोगदण्डे किया। श्री जोगदण्डे इस अवसर पर कहां कि कुछ दिन पहले हमें चौथान क्षेत्र में अल्ट्रासाउंड नहीं होने की शिकायत मिली थी। जिसके बाद इस की जांच करने के लिए सीएमओ को आदेश दिए गए थे। जांच में पाया गया कि इस क्षेत्र में 71 महिलाओं को अल्ट्रासाउंड की सुविधा चाहिए।

जिलाधिकारी श्री जोगदण्डे ने बताया की इस संबंध में हमने हंस जरनल अस्पताल सतपुली से निवेदन किया। जिसे अस्पताल प्रशासन ने स्वीकार किया। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से इन महिलाओं का अल्ट्रासाउंड हंस जरनल अस्पताल सतपुली में कराने की व्यवस्था की गई। स्वास्थ्य विभाग एवं हंस अस्पताल के सहयोग से इन महिलाओं को अस्पताल लाने और अल्ट्रासाउंड करने के बाद उनके घर तक छोड़ने तक की व्यवस्था की गई। हंस अस्पताल में पहले दिन 15 गर्भवती महिलाओं की अल्ट्रासाउंड जांच की गई। इसी के साथ बाकि जिन महिलाओं का अल्ट्रासाउंड होना है। उनकी भी जांच की जा रही है।

डीएम डा.विजय कुमार जोगदण्डे ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग, हंस फाउंडेशन के सहयोग से चौथान क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं की हंस जरनल अस्पताल सतपुली में अल्ट्रासाउंड जांच शुरू कर दी गई है। सभी गर्भवती महिलाओं को आशा स्वास्थ्य कर्मी के सहयोग से सुविधा उपलब्ध कराते हुए, अल्ट्रासाउंड कराने के बाद घरों तक पहुंचाया जा रहा है। इसमें निश्चित तौर पर हंस अस्पताल का बहुत महत्वपूर्ण सहयोग हमें मिला है। जिसके लिए हम माता मंगला जी एवं भोले जी महाराज जी के साथ-साथ हंस अस्पताल के डॉक्टरों और पूरे स्टाफ का आभार व्यक्त करते है।

हंस जरनल अस्पताल सतपुली का आभार व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी श्री जोगदण्डे ने कहा कि पौड़ी गढ़वाल के दूरगामी क्षेत्रों में रह रहे ग्रामीणों को हंस जरनल अस्पताल स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्र में जो सेवाएं दे रहा हैं,वह निश्चित तौर पर सराहनीय है। इस कोविड संक्रमण के दौर में भी हंस फाउंडेशन की सेवाएं पहाड़ के दूरगामी क्षेत्रों तक पहुंच रही है। इसके लिए मैं हृदय की गहराइयों से माता मंगला जी एवं भोले जी महाराज जी का आभार प्रकट करता हूं।

श्री जोगदण्डे ने इस मौके पर बताया कि इसी तरह अन्य ब्लॉकों की दुर्गम क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं को भी एमओआईसी के माध्यम से सुविधा मुहैया कराई जायेगी। जिला कार्यक्रम अधिकारी जितेन्द्र कुमार ने बताया कि चौथान क्षेत्र के गांवों का सर्वे करते हुए 71 गर्भवती महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण अल्ट्रासाउंड किया जाना है। जिनमें से 15 गर्भवती महिलाओं का हंस जरनल अस्पताल में अल्ट्रासाउंड कराया गया है। जिला प्रशासन के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को आवाजाही, भोजन सहित सभी सुविधा मुहैया कराई जा रही है। सीएमओ डा. मनोज शर्मा ने कहा कि चौथान क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं के अल्ट्रासाउंड कराए जाने की कार्यवाही गतिमान है। सभी चिन्हित गर्भवती महिलाओं को आशा के माध्यम से हंस जरनल अस्पताल में अल्ट्रासाउंड हेतु लाया जा रहा है। उक्त कार्य को सुगमता पूर्वक संपादन हेतु क्षेत्र के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया गया है।

हंस जरनल अस्पताल सतपुली में अल्ट्रासाउंड कराने पहुंची मीना देवी, अनीता देवी, मुन्नी देवी, आशा देवी, गंगा देवी, तुलसी देवी, चन्ना देवी, सुन्दरी देवी, मंजू देवी, रीना देवी, किरन, गुड्डी देवी, विनिता देवी, वीरा देवी सहित अन्य सभी महिलाओं ने उन्हें इन सुविधाओं को प्रदान करने के लिए डीएम डा.विजय कुमार जोगदण्डे एवं हंस अस्पताल सतपुली के डॉक्टरों एवं स्टाफ का आभार व्यक्त किया।