छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय में ज्योतिष एवं एकात्म मानव दर्शन पर आधारित मूल्यवर्द्धक पाठ्यक्रम प्रमाण पत्र वितरण के साथ संपन्न

0
117

ज्योतिष एवं एकात्म मानव दर्शन पर आधारित मूल्यवर्द्धक पाठ्यक्रम का समापन सत्र छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के दीनदयाल शोध केन्द्र में आयोजित किया गया,जिसमें मुख्य अतिथि वरिष्ठ पत्रकार गणेश तिवारी रहे। उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि ज्योतिष एवं एकात्म मानव दर्शन दोनों समाज के लिए बेहद उपयोगी है। यदि समाज में इनका उपयोग हो तो सभ्य,सुसज्जित और संस्कारी समाज की नींव को और मजबूती प्रदान की जा सकती है।

विशिष्ट अतिथि प्रख्यात नेत्र चिकित्सक डॉ.शरद वाजपेयी ने ग्रहों का मानव जीवन पर पड़ने वाले प्रभावों और दुष्प्रभावों पर चर्चा करते हुए कहा कि ग्रह व्यक्ति की दशा और दिशा तय करते हैं। ग्रहों के आधार पर व्यक्ति मान-सम्मान,यश-अपयश का भागी बनता है। हम इस बारे सजग होकर मानव जीवन को और बेहतर बना सकते है। प्रति कुलपति एवं शोध केन्द्र के निदेशक प्रो.सुधीर कुमार अवस्थी ने बताया कि उक्त विषय की उपयोगिता को देखते हुए शोध केन्द्र नये सत्र से परास्नातक डिप्लोमा और एमए ज्योतिष ज्ञान शुरू करने जा रहा है।

इस अवसर पर पाठ्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र वितरित किया गया। कार्यक्रम में शोध सहायक डॉ.मनीष द्विवेदी,प्रेरणा,प्रियांशु पाण्डेय,ओमप्रकाश मिश्र,आशुतोष वाजपेयी,योगेश वाजपेयी,डॉ.दिवाकर अवस्थी, डॉ.ओम शंकर गुप्ता समेत बड़ी संख्या में प्रतिभागी गण उपस्थित रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here