बागेश्वर शहर के नारायण देव वार्ड में गुलदार ने मचाया उत्पात,पांच घंटे बाद वनकर्मियों ने किया कैद

0
1646
संतोष फुलारा

बागेश्वर जिले में बुधवार को पांच घंटे तक शहर के बीचों बीच सेंज इलाके में गुलदार ने जबरदस्त उत्पात मचाया। नारायण देव वार्ड इलाके की गलियों में इस गुलदार ने मकानों के बीच बनी संकरी गलियों में लोगों को खूब छकाया। लोग गुलदार के डर से लगभग पांच घंटे तक अपने घरों में कैद रहे।

दरअसल बागेश्वर जिला मुख्यालय के नारायण देव वार्ड सेंज में अचानक एक मादा गुलदार घुस आया था। जिसने करीब पांच घंटे से भी अधिक समय तक जमकर आतंक मचाया। विकास भवन परिसर से महज 100 मीटर की दूरी पर सेंज इलाके में बुधवार सुबह घनी आबादी में इस गुलदार के नजर आने से अफरा-तफरी का महौला रहा। जिसके तुरंत बाद लोगों ने वन विभाग को इसकी सूचना दी।

शहर में गुलदार के घुसने की खबर मिलते ही पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया। लोग अपने-अपने घरों की छतों से गुलदार को खोजने लगे। अचानक गुलदार एक खेत के किनारे दुबका नजर आया। वन विभाग,आपदा प्रबंधन और पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारी और कर्मचारी गुलदार को खोजने और उसे ट्रेंकुलाइज करने के लिए घरों की छतों से लेकर गलियों में दौड़ते रहे और गुलदार इन्हें एक गली से दूसरी गली में छकाता रहा। करीब पांच घंटे की लुका-छिपी के बाद आखिरकार गुलदार अचानक एक घर के बाथरूम में घुस गया। जहां एक व्यक्ति ने सूझबूझ दिखाते हुए इसे बाथरूम में बंद कर दिया।

इसके बाद पशुपालन विभाग के चिकित्सकों ने किसी तरह गुलदार को ट्रेंकुलाइज कर वन विभाग को सौंप दिया। गुलदार को ट्रेंकुलाइज करने के बाद डीएफओ बीएल साही ने बताया कि वन विभाग,आपदा प्रबंधन और पशु चिकित्सा विभाग के सभी अधिकारियों के सहयोग से इस मादा गुलदार को ट्रेंकुलाइज किया गया है। यह जंगल से भटककर आबादी में घुस आया था। गुलदार ने इस क्षेत्र में किसी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचाया यह खुशी की बात है। ट्रेंकुलाइज गुलदार को स्वास्थ्य के जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।