उत्तराखंड के सभी स्कूलों में 30 जून तक ग्रीष्मावकाश घोषित

0
1091

उत्तराखंड में बढ़ते कोरोना संक्रण के चलते सरकार ने सरकारी,निजी और सहायता प्राप्त आशासकीय स्कूलों को लेकर महत्वपूर्ण आदेश जारी किया है। राज्य के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय के निर्देश पर सचिव आर मीनाक्षी सुंरदरम ने सरकारी, निजी और सहायता प्राप्त अशासकीय स्कूलों में 30 जून तक ग्रीष्मावकाश घोषित कर दिया है। यह आदेश डे व बोर्डिंग सभी स्कूलों पर लागू होगा। 

सरकारी, निजी और सहायता प्राप्त अशासकीय स्कूलों में 30 जून तक ग्रीष्मावकाश घोषित होने पर सरकार ने साफ किया हैं कि इसका कड़ाई से पालन किया जाए। जो स्कूल इस शासनादेश का उल्लंघन करते हुए पाया गया। उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कर्रावई की जाएगी। शासनादेश में कहा गया कि राज्य में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण चलते ग्रीष्मावकाश की अवधि बढ़ाई गई है। इससे पहले ग्रीष्मावकाश एक जून से लागू होता रहा है। इस बार यह शनिवार से लागू कर दिया गया है। जिसका पालन स्कूल गंभीरता से करें।

यह खबर कुछ खास है

शासनादेश में कहा गया कि निजी स्कूलों के लिए आनलाइन माध्यम से पढ़ाई का विकल्प खुला है। निजी स्क्लू सुविधानुसार आनलाइन कक्षाएं संचालित कर सकते है। यह व्यवस्था इसी सत्र के लिए लागू रहेगी। आपको बता दें कि उत्तराखंड में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे है। जिसके चलते सरकार को यह कदम उठाना पड़ा है। उत्तराखंड में करीब 24 दिन पहले ही ग्रीष्मावकाश घोषित कर दिया गया है। शिक्षा सचिव ने इस संबंध में शिक्षा महानिदेशक, शिक्षा विभाग के तीनों निदेशकों, सभी जिलाधिकारियों, उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद के सचिव और सभी मुख्य शिक्षाधिकारियों के लिए आदेश जारी किया है।