टिहरी के राजकीय नर्सिंग कॉलेज सुरसिंगधार में पढ़ने वाले 95 बच्चे कोरोना पॉजिटिव,उत्तराखंड कोरोना संक्रमण ने बनाया फिर नया रिकॉर्ड

0
1062

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सरकार द्वार किए जा रहे तमाम प्रयासों के बाद भी कोरोना संक्रमण के आंकड़े घटने का नाम नहीं ले रहे है। शनिवार को एक फिर से राज्य में कोरोना संक्रमण के 5084 नए मामले आए हैं। जो एक दिन में आए अब तक के सर्वाधिक मामले हैं। इसी के साथ राज्य में कोरोना संक्रमित 81 मरीजों की मौत हुई है। यह पहली बार है जब उत्तराखंड में एक दिन में इतनी मौत हुई हैं।

उत्तराखंड में कोरोना से हालात बेकाबू होते जा रहे है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आकंडों के अनुसार उत्तराखंड में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1,47433 पहुंच गया है। जबकि 108916 लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके है। जबकि अभी भी राज्य में 33330 केस एक्टिव है। शनिवार की बात करें तो आज राज्य में कोरोना के 5084  मामले सामने आये है। जिसमें देहरादून में 1736,हरिद्वार में 958 पौड़ी में 301,उतरकाशी में 215,टिहरी में 190,बागेश्वर में 10,नैनीताल में 592,अल्मोड़ा में 117,पिथौरागढ़ में 123,उधमसिंह नगर में 378,रुद्रप्रयाग में 53,चंपावत 321 और चमोली में 90 मामले समाने आए है। राज्य में कोरोना संक्रमण से मरने वालो का आंकड़ा 2102 पहुंच गया है।

इस बीच कोरोना को लेकर चौकाने वाली खबरे टिहरी से आ रही है। जहां राजकीय नर्सिंग कॉलेज सुरसिंगधार के छात्रावास में रह रहे 95 छात्र-छात्राएं कोरोना संक्रमित पाए गए है। इतनी बड़ी संख्या में छात्रावास में छात्र-छात्राओं के कोरोना संक्रमित मिलने से कॉलेज प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। इस छात्रावास में कुल 208 बच्चे रहते है। इनके कुछ दिन पहले सेम्पल लिए गए थे। जिनमें से शनिवार को 95 बच्चों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके बाद से जिला प्रशासन ने इस क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित कर सभी बच्चों को कॉलेज में ही आइसोलेटेड कर दिया है।

इस बारे में हमने जब टिहरी की जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव से जानकारी ली तो उनका कहना हैं कि राजकीय नर्सिंग कॉलेज सुरसिंगधार में छात्रावास में रह रहे बच्चों और यहां कार्यरत कर्मचारियों के कुछ दिन पहले सैंपल लिए गए थे। जिसमें छात्रावास के 95 बच्चों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है,अभी भी कुछ बच्चों और कर्मचारियों की रिपोर्ट आनी बाकि है। इनमें से जिन बच्चों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उन्हें जल्द से जल्द उनके घर भेजने की तैयारी की जा रही है। इसी के साथ जिन कर्मचारी और बच्चों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्हें स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में रखा गया है। साथ ही इन बच्चों और स्टाफ के संपर्क में जो भी लोग आए है। उन पर स्वास्थ्य विभाग टीम नजर रखे हुए है।

जिलाधिकारी द्वारा जिला स्वास्थ्य विभाग की एक टीम गठित की है जो बच्चों के स्वास्थ्य पर निगरानी रखेगी साथ ही निर्देश दिए कि सभी बच्चों को किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए अगर बच्चों के स्वास्थ्य के प्रति कोई भी कर्मचारी अधिकारी लापरवाह करते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

सुरसिंगधार नर्सिंग कॉलेज की प्रधानाचार्य सविता अहमद नाज ने इस बारे में बताया कि छात्रावास में रहे छात्र-छात्राओं का आरटीपीसीआर हुआ था। जिसममें रिपोर्ट आने पर 95 छात्र-छात्राओं में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इस छात्रावास में चार दिन पहले एक छात्रा कोरोना पॉजिटिव आया था। जिसके बाद यहां सभी छात्र-छात्राओं की आरटीपीसीआर टेस्ट कराया गया था। जिसमें 95 छात्र-छात्राओं में कोरोना पाए गए है। जिसके बाद से पूरे कॉलेज को बंद कर दिया गया है। संक्रमितों को उनकी सुविधानुसार छात्रावास में आइसोलेट कर दिया गया है।