उत्तराखंड-चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए सीएम धामी की बड़ी पहल,उत्तराखंड आने वाले यात्रियों की नहीं होगी कोरोना जांच

0
590

उत्तराखंड में विश्‍व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा 3 मई से शुरू होने जा रही। चार धाम यात्रा पर बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए सरकार ने कई गाइडलाइन बनायी है। लेकिन अभी तक यह तय नहीं हो पा रहा था कि चार धाम यात्रा पर आने के लिए कोरोना जांच करवाना जरूरी होगा या नहीं? इस भ्रम की स्थिति को अब सीएम धामी के निर्देश पर दूर कर दिया गया है।

उत्तराखण्ड में बाहर से आने वाले यात्रियों और श्रद्धालुओं की कोविड जांच को लेकर भ्रम की स्थिति दूर करने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर मुख्य सचिव डॉं एसएस संधु ने संबंधित अधिकारियों की बैठक ली।

इस बैठक में मुख्य सचिव ने चारधाम यात्रा के सफल संचालन के लिये  निर्देश दिए कि अग्रिम आदेशों तक यात्रियों एवं श्रद्धालुओं को राज्य की सीमा पर होने वाली असुविधा एवं भीड़ से बचाव करने के दृष्टिगत कोविड-19 टेस्टिंग वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट एवं अन्य किसी भी प्रकार की चेकिंग की अनिवार्यता नहीं है।

लेकिन यह जरूरी हैं कि सभी यात्री एवं श्रद्धालुओं को उत्तराखण्ड में चारधाम यात्रा हेतु पर्यटन विभाग द्वारा संचालित पोर्टल पर पूर्व की भांति पंजीकरण करना अनिवार्य होगा। शासन एवं प्रशासन स्तर पर स्थिति का निरन्तर अनुश्रवण किया जाए।

मुख्य सचिव ने आगामी चार धाम यात्रा की तैयारियों की समीक्ष भी की। बैठक में सचिव स्वास्थ्य,सचिव पर्यटन,सचिव धर्मस्व,सचिव परिवहन,पुलिस महानिदेशक मुख्य कार्यकारी अधिकारी बद्रीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति एवं अन्य अधिकारियों सहित यात्रा से जुड़े सभी जनपदों के जिलाधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर एवं सचिव,स्वास्थ्य राधिका झा द्वारा विस्तृत प्रस्तुतिकरण किया गया।

आपको बता दें कि देश में एक बार फिर बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए। उत्तराखंड में चारधाम की यात्रा के लिए नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट को अनिवार्य कर दिया गया था। नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट के बिना किसी को भी यात्रा की अनुमति नहीं देने की खबरें थी। लेकिन अब ऐसा नहीं हैं सरकार ने इस भ्रम को दूर करते हुए कोविड-19 टेस्टिंग,वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट एवं अन्य किसी भी प्रकार की चेकिंग की अनिवार्यता को फिलहाल खत्म कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here