सरकार की प्राथमिकता सिडकुल को बढावा देना,ताकि स्थानीय स्तर पर लोगों को अधिक से अधिक रोजगार मिले-गणेश जोशी

0
852

सैनिक कल्याण, औद्योगिक विकास, लघु सूक्ष्म एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्योग गणेश जोशी ने अपने एक दिवसीय भ्रमण के दौरान जसपुर में खादी यूनिट का निरीक्षण,रूद्रपुर में इण्डस्ट्रियल एस्टेट का निरीक्षण कर विकास भवन सभागार में सिडकुल एसोसिएशन के पदाधिकारी, सैनिक कल्याण, उद्योग विभाग के अधिकारियों के साथ उद्योगों को बढावा देने के सम्बन्ध में चर्चा की। इस दौरान क्षेत्रीय प्रबन्धक सिडकुल पारितोष वर्मा एवं एसोसिएशन के पदाधिकारियों द्वारा विस्तृत रूप से  औद्योगिक विकास मंत्री को उद्योगों के विस्तार एवं समस्याओं के बारे में अवगत कराया।

इस मौके पर श्री जोशी ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता सिडकुल को बढावा देना है। जिससे कि स्थानीय स्तर पर लोगों को अधिक से अधिक रोजगार का अवसर प्रदान हो सकें। उन्होंने कहा कि उद्योग बन्धुओं द्वारा जो कार्य किये जा रहे है। वह एक सराहनीय कार्य है। उन्होंने कहा कि सिडकुल एसोसिएशन द्वारा जो भी समस्याएं रखी गयी है। उनका समाधान यथा शीघ्र किया जायेगा। उन्होंने कहा कि उद्योगों को पहाड़ो में कैसे पहुंचाया जाये इस पर सरकार लगातार कार्य कर रही है। ताकि स्थानीय उत्पाद को उनका बाजार मिल सकें। उन्होंने कहा कि आगामी तीन माह के अन्तर्गत औद्योगिक क्षेत्र में बदलाव दिखाई देगा जिसके लिये निरन्तर मेरे द्वारा औद्योगिक क्षेत्रों का भ्रमण किया जा रहा है ताकि जो भी उद्योगों से सम्बन्धित समस्याएं है उनका निराकरण शीघ्र किया जा सकें।

श्री जोशी ने कहा कि जनपद के औद्योगिक समस्याओं के सामाधान के लिये माह में एक दिन एमडी सिडकुल जनपद में रहेगें। उन्होंने एमडी सिडकुल को निर्देश दिये कि औद्योगिक क्षेत्र की सड़के, विद्युत आदि देख रेख हेतु किसी की जिम्मेदारी सुनिश्चित करें ताकि उद्योगों को संचालन में किसी प्रकार की समस्या न हो। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म रोजगार योजना के अन्तर्गत इच्छुक लोगों को रोजगार करने के लिये सरकार 10 हजार रूपया देगी जिसमे 5 हजार रूपये की छूट सरकार द्वारा दी जायेगी। 

इस अवसर पर विधायक राजकुमार ठुकराल,राजेश शुक्ला,जिलाध्यक्ष शिव अरोरा,एमडी सिडकुल रोहित मीणा,मुख्य विकास अधिकारी हिमांशु खुराना,क्षेत्रीय प्रबन्धक सिडकुल पारितोष वर्मा,महाप्रबन्धक उद्योग चंचल बोहरा,केजीसीसीआई के अध्यक्ष अशोक बंसल सहित विभिन्न एसोसिएशन के पदाधिकारी व सम्बन्धित विभागों के अधकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।