‘जय हो ग्रुप’ एवं ‘अजीम प्रेम जी फाउंडेशन’ ने यमुनाघाटी के दर्जनों गाँव,नगर पालिका बड़कोट और नगर पंचायत नौगाँव में जरूरतमंद परिवारों को प्रदान की राशन किट

0
580

सामाजिक चेतना की बुलंद आवाज ‘जय हो ग्रुप’ और ‘अजीम प्रेम जी फाउंडेशन’ के स्वयंसेवियों ने यमुनाघाटी के दर्जनों गाँव,नगर पालिका बड़कोट और नगर पंचायत नौगाँव में कोविड कर्फ्यू से प्रभावित जरूरतमंद गरीब असहाय परिवारों को राशन किट सहित जरूरी सामाग्री उपलब्ध करवाई।

आपको बता दें कि सामाजिक चेतना की बुलन्द आवाज “जय हो” ग्रुप बड़कोट और ‘अजीम प्रेम जी फाउंडेशन’ के स्वयंसेवियों ने 150 से अधिक राशन की किट जरूरतमन्दों तक पहुँचाया, जिसमें आटा, चावल, तेल, मसाले, नमक, दाल, आलू, न्युटी, साबुन,चीनी चायपत्ती आदि लगभग 17 किलों की प्रति किट जरूरतमंद गरीब असहाय लोंगो को वितरित की गई। अजीम प्रेम जी फाउंडेशन के बड़कोट प्रभारी संजीव बिजल्वाण ने बताया कि कोरोना संक्रमण में कोविड कर्फ्यू के चलते मार्केट बन्द होने से गरीब लोगों के सामने काफी दिक्कतें आ गई थे। बड़कोट में जय हो ग्रुप के आग्रह पर अजीम प्रेम जी फाउंडेशन द्वारा 150 राशन किट की स्वीकृति मिली जिनका वितरण जय हो ग्रुप के स्वयंसेवियों के सहयोग से हो रहा है। उन्होंने बताया कि उक्त राशन यमुनाघाटी के सरनोल,चपटाड़ी,बचाण गाव, पालर,गैर, ब्याली, पौंटी, मोल्डा, भाटिया, बिंगसी, सपेटा, तुनालका,मुराड़ी,सौली बाजार,मुगरा, छमरोटा, बजलाड़ी,सारिगाड़,मुलाना,नगर पंचायत नौगाँव,नगर पालिका बड़कोट आदि स्थलों पर जरूरतमंद गरीब लोगों को राशन की किट उपलब्ध करवाई गई।

जय हो ग्रुप के संयोजक सुनील थपलियाल ने बताया कि अजीम प्रेम जी फाउंडेशन संस्थान से जय हो ग्रुप ने कोविड कर्फ्यू के चलते जरूरतमन्दों को राशन किट दिए जाने का आग्रह किया था जिस पर संस्थान ने स्वीकृति दी। उन्होंने बताया कि पिछले साल कोविड 19 के चलते लॉक डाउन में भी जरूरतमन्दों को राशन किट उपलब्ध करवाई थी। जरूरतमन्दों तक राशन किट पहुँचाने वालो में स्वयंसेवी मोहित अग्रवाल, सुशील पीटर,रजत अधिकारी,गिरीश चौहान, प्रदीप रांगड़, जय सिंह पंवार, मनोज गौड़, प्रकाश लाल, संजीव बिजल्वाण,संयोजक सुनील थपलियाल, नवीन जगूड़ी,अजय रावत,मंजू गौड़, सहित दर्जनों स्वयंसेवी शामिल थे।