देवभूमि संस्थान में पर्यावरण संरक्षण पर व्यख्यानमालाओं का आयोजन

0
993

देवभूमि ग्रुप ऑफ़ इंस्टिट्यूशनस में पर्यावरण दिवस के मौके पर विभागों द्वारा वेबिनार का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मॉडल मेकिंग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। संस्थान स्तर पर हुए इस कार्यक्रम को  माइक्रोबायोलॉजी एवं स्कूल ऑफ़ आर्किटेक्चर एन्ड डिजाईन ने संपन्न किया। पर्यावरण पर केंद्रित इस व्याख्यान में पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली, नवकल्पना,  और पुनः स्थापना पर चर्चा की गई।

व्याख्यान हेतु दून विश्वविद्यालय देहरादून के वन संसाधन प्रबंधन विशेषज्ञ डॉक्टर विवेक जोशी ने छात्रों के साथ अपना अनुभव साझा किए। इस मौके पर मॉडल मेकिंग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमें छात्रों ने अपनी प्रतिभा को दर्शाया l मॉडल मेकिंग कंपटीशन की प्रथम पुरस्कार विजेता प्रथम वर्ष बीएससी फूड टेक्नोलॉजी की फिरोजा रही, द्वितीय स्थान प्रतिभा पांडे तृतीय वर्ष बीएससी माइक्रोबायोलॉजी, तीसरा स्थान संगीता हजारिका प्रथम वर्ष आर्किटेक्चर,  चौथा स्थान सलोनी राय प्रथम वर्ष बी फार्मा जबकि पांचवा स्थान दीपाशा प्रथम वर्ष बी एच ए और अरिहंत जैन बीटेक सीएसई के बीच टाई रहा।

इस अवसर पर छात्रों के समूह को संबोधित करते हुए संस्थान के ग्रुप डायरेक्टर (डॉ.) प्रोफेसर मनीष प्रतीक एवं डायरेक्टर रिसर्च प्रोफेसर (डॉ.) आर. के. त्रिपाठी ने पर्यावरण की महत्ता पर प्रकाश डाला l कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रोफ़ेसर (डॉ.) आर. के. त्रिपाठी  ने की l कार्यक्रम का संचालन डॉ. प्रेरणा बडोनी ने किया l इस मौके पर ज्वाइंट डायरेक्टर डी.वी.जी.आई, ज्वाइंट डायरेक्टर डी.बी.आई.एम.एस. श्री दिग्विजय सिंह आदि मौजूद रहे।

इससे पूर्व होटल मैनेजमेंट विभाग की ओर से “फॉर्म टू प्लेट” विषय पर व्यापक चर्चा की गयी। ऑनलाइन कार्यशाला में मुख्य अतिथि एवं बेंगलुरु में स्थापित विलेज स्टोरी की संस्थापक अनामिका बिष्ट ने अपने अनुभव छात्रों के साथ साझा किया। उन्होंने कहा, “आहार और पोषण मानव स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है।” खाद्य अपमिश्रण और संदूषण से शरीर पर  होने वाले नुकसान को बताया गया। कार्यक्रम का आयोजन होटल प्रबंधन विभाग की विभागाध्यक्ष श्रीमती दीपा चावला ने किया और विनोद श्रीवास्तव (संयुक्त निदेशक) सहित विभाग की फैकल्टी और छात्र मौजूद रहे।