रायपुर विकासखंड के सरोना अस्पताल में प्रारम्भ हुई आक्सीजन युक्त कोविड उपचार सुविधा

0
822

देहरादून जनपद के कोविड उपचार व्यवस्थाओं के प्रभारी मंत्री तथा सैनिक कल्याण, औद्योगिक विकास, एम0एस0एम0ई0 तथा खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गणेश जोशी ने सरोना स्थित राजकीय ऐलोपैथिक चिकित्सालय को 02 आक्सीजन कंसंट्रेटर, 04 जम्बो आक्सीजन सिलेण्डर व बैड उपलब्ध करवाए। अस्पताल में आक्सीजन बैड उपलब्ध हो जाने के उपरांत सरोना तथा आसपास के ग्रामीणां को कोरोना उपचार की सुविधा उपलब्ध होगी।

काबीना मंत्री ने क्षेत्रवासियों को आश्वस्त किया कि क्षेत्र के अत्यधिक गरीब तथा ऐसे परिवार जिनके रोजगार वर्तमान कोविड संकट के चलते आजीविका का संकट खड़ा हो गया है उन्हें ग्रामप्रधानों द्वारा चिन्हित करवा कर राशन किट उपलब्ध करवाई जाएगी। काबीना मंत्री ने बताया कि कोविड संक्रमण के ग्रामीण क्षेत्रां की ओर स्थानांतरित होने के कारण सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड उपचार सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। हमारा प्रयास है कि ‘‘जहां बीमार वही मिले उपचार’’। इसलिए ग्रामीण स्तर पर पूर्व से ही मौजूद चिकित्सा ढ़ाचे को कोविड उपचार योग्य बनाया जा रहा है। इसके अलावा कोविड निगरानी हेतु आक्सीमीटर, थर्मामीटर बैंक बनाए गए हैं। प्राथमिक उपचार हेतु कोराना उपचार किट वितरित की जा रही हैं। साथ ही यह भी ध्यान रखा जा रहा है कि क्षेत्र में कोई भूखा ना रहे।

इस दौरान उपस्थित अस्थल के जिला पंचायत सदस्य वीर सिंह का कहना था कि, सरोना अस्पताल में कोरोना उपचार सुलभ होने से क्षेत्र की छमरोली, सरोना, नांलीकलां, सिल्ला, क्यारा इत्यादि क्षेत्रों के लगभग 1600 परिवारों को लाभ मिलेगा। सरोना की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए यह बहुत ही स्वागत योग्य कदम है। उपचार हेतु यहां से ग्रामीणां को सहत्रधारा तक तकरीबन 22 किलोमीटर की सीधी चढ़ाई तथा खतरनाक कच्चे रास्तों से होते हुए देहरादून, अथवा इतनी ही दूर मसूरी जाना पड़ता था।

ग्रामीणों ने मंत्री से मांग की कि ग्रामीण क्षेत्र में सड़क की स्थिति को तत्काल ठीक किया जाए ताकि आपातकाल के दौरान इसका सदुपयोग हो सके। मंत्री ने ग्रामीणों को स्टीमर (भाप लेने वाली मशीन) एवं सैनिटाईजर भी वितरित किये।

इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य वीर सिंह, मण्डल महामंत्री नारायण सिंह राणा, सुन्दर पयाल, जगदीश पयाल, अनीता जवाड़ी, ग्राम प्रधान भारती, अमित पयाल, बीडीसी सुरेश पयाल, सुनील चमोली, जय प्रकाश कोठारी, जिला आयुष अधिकारी डा मिथिलेश कुमार, डा0 एचएम त्रिपाठी, डा0 रमेश चौहान, डा0 सुनील, केपी जोशी, सरिता रावत, भूपेन्द्र आदि उपस्थित रहे।