घबराए नहीं,हारेगा कोरोना ‘ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया’ टीके को लेकर आज करने जा रहा है बड़ा एलान

0
1149

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से पूरी दुनिया लगभग थम सी गई थी। पूरे विश्व में लॉकडाउन हुआ। लॉकडाउन के चलते हजारों लोगों का रोजगार चला गया। बड़ी-बड़ी कंपनियां धराशायी हो गई। लाखों लोगों की जान चली गई,लेकिन अब घबराने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि भारत में कोरोना वैक्सीन का ड्राईरन शुरू हो गया है। इसी के साथ आज भारतीय औषधि महानियंत्रक कोरोना वैक्सीन टीके को लेकर बड़ी घोषणा करने जा रहा है।

भारत में तमाम दूसरे देशों के मुकाबले कोरोना के नए मामलों में निरंतर कमी आ रहा है। पिछले 24 घंटों की बात करें तो भारत में पिछले 24 घंटो में कोरोना के 20,000 से कम नए मामले सामने आए है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की और जारी आंकड़ों के अनुसार भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 19,079 नए मामले दर्ज किए गए हैं। इसी के साथ भारत में कोरोना संक्रमण के कुल मामले 1.03 करोड़ पर पहुंच गए हैं।  बीते 24 घंटों यानी एक दिन में कोरोना की वजह से 224 लोगों की जान गई है। अब तक भारत में 1,49,218 मरीजों की वायरस की वजह से मौत हुई है, जबकि भारत में कोरोना रिकवरी रेट सबसे ऊपर जबकि एक्टिव मरीज़ों का प्रतिशत सबसे कम है।

आपको बता दें कि भारत में सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में 116 जिलों में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन शुरू हो गया है। जिसके लिए लगभग 259 वैक्सीनेशन बूथ बनाए गए हैं। आपको यह भी बता दें कि इस ड्राई रन में किसी वैक्सीन का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है,बल्कि सिर्फ इसकी जांच की जा रही है कि वैक्सीनेशन के लिए बनाई गई योजना कितनी कारगर है। यानी ड्राई रन और कुछ नहीं बल्कि वास्तविक टीकाकरण अभियान से पहले रिहर्सल या मॉक ड्रिल है।

भारत में कोरोना वैक्सीन को लेकर चल रही तमाम तैयारियों और कोरोना टीके को लेकर आज भारतीय औषिधि महानियंत्रक बड़ी घोषणा करने जा रहा है। जिसके लिए औषधिक महानियंत्रक ने आज एक प्रेस वार्ता बुलाई है। यदि ताजे अपडेट की बात करें तो भारत में कोविशील्ड और कोवाक्सीन को आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है। सरकार ने देशवासियों से अपील की हैं की लोगों को घबराने की आवश्यकता नहीं। बस सभी लोग कोरोना संक्रमण को लेकर सावधान रहे और सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को कड़ाई से पालन करें,तभी हम सब मिलकर वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण को हरा सकते है।