अक्टूबर में मसूरी आएंगे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी,मसूरी टनल के निर्माण कार्यों का करेंगे निरीक्षण

0
915

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने अपने दिल्ली प्रवास के दौरान केन्द्रीय एम0एस0एम0ई0 एवं सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी से, उनके ट्रांस्पोर्ट भवन स्थित कार्यालय में  मुलाकात की। इस दौरान काबीना मंत्री गणेश जोशी ने केन्द्रीय मंत्री को केदारनाथ मंदिर की प्रतिकृति भेंट की तथा मसूरी में 700 करोड़ की लागत से बनने वाली तकरीबन 2.74 किलोमीटर लम्बी टनल को भारत सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की ओर से हरी झंडी देने के लिए उनका आभार व्यक्त किया। टनल के निमार्ण कार्य का उद्घाटन करने स्वयं मसूरी आने के कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी के आमंत्रण पर केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि अक्टूबर माह में वह मसूरी टनल का उद्घाटन करने आएंगे।

आपको बता दें कि कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी इन दिनों दिल्ली प्रवास पर हैं। कोरोना संक्रमण काल के दौरान देहरादून जनपद के कोरोना उपचार व्यवस्थाओं के प्रभारी के तौर पर कोरोना उपचार व्यवस्थाओं में व्यस्त होने के कारण गणेश जोशी राज्य सरकार में मंत्री बनने बाद पहली बार केन्द्रीय नेताओं से मुलाकात करने दिल्ली पहुंचे हैं।

मसूरी टनल निमार्ण की स्वीकृति प्रदान करने पर केन्द्रीय मंत्री का धन्यवाद करते हुए उन्होंने नितिन गड़करी को बताया कि राज्य के राजधानी शहर देहरादून से मात्र 34 किलोमीटर की दूरी पर वैश्विक पर्यटन मानचित्र में ‘‘पहाड़ों की रानी’’ के नाम से सुविख्यात नगर मसूरी स्थित है। लाखां पर्यटक प्रतिवर्ष मसूरी आवागमन करते हैं। जाम की वजह से पर्यटकों पर बड़ा ही नकारात्मक असर पड़ रहा था। आपके द्वारा मसूरी नगर को टनल के रूप में दिया गया यह अमूल्य उपहार न सिर्फ मसूरी नगर बल्कि उत्तरकाशी जनपद के निवासियों के लिए भी नई सम्भावनाओं के द्वार खोलेगा। मसूरी नगर तथा उत्तराखण्ड राज्य में पर्यटन विकास संभावनाओं एवं तद्जनित रोजगार अवसरों को बढ़ाने हेतु यह टनल मील का पत्थर साबित होगी।

एम0एस0एम0ई0 प्रोजेक्टस को मिलेगा प्रोत्साहन और खादी के बंद पड़े प्रशिक्षण एवं प्रर्दशनी केन्द्रों का होगा पुनरोद्धार – राज्य एमएसएमई मंत्री गणेश जोशी ने केन्द्रीय एमएसएमई मंत्री नितिन गड़करी के समक्ष राज्य की लघु एवं मध्यम व नैनो उद्यामों से जुड़ी दिक्कतों पर सहयोग की मांग रखी। जिस पर केन्द्रीय मंत्री द्वारा हर संभव सहयोग का वादा किया। साथ ही खादी एंव ग्रामोद्योग बोर्ड के चम्बा, श्रीनगर, अल्मोड़ा, कालाढुंगी इत्यादि नगरों में स्थापित बन्द पड़े प्रशिक्षण केन्द्रों व उत्पादन इकाईयों के पुनरोद्धार के लिए केन्द्र सरकार से सहयोग की मांग की। जिस पर केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि आप प्रस्ताव भेजें, मंत्रालय की ओर से राज्य के प्रस्तावों को मैं स्वीकृत करुंगा। उन्होंने कहा कि खादी एवं ग्रामोद्योग क्षेत्र में राज्य में बहुत संभावनाएं हैं।

किमाड़ी मोटर मार्ग के लिए सी0आर0एफ0 से दिया जाएगा सहयोग-मसूरी के किमाड़ी क्षेत्र की सड़क के निमार्ण हेतु कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी के प्रस्ताव पर केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने आश्वस्त किया कि केन्द्रीय सड़क निधि (सी0आर0एफ0) के माध्यम से इस हेतु सहयोग प्रदान किया जाऐगा।